मंगलवार, 7 फ़रवरी 2017

स्वास्थ्य के प्रति सजगता


          1.   कृपया APPY FIZZ का सेवन न करें, क्योंकि इसमें कैंसर पैदा करने वाले रसायन है ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
          2.   कोक या पेप्सी सेवन करने से पहले व बाद में मेन्टोस का सेवन न करें क्योंकि इसका सेवन करने से मिश्रण साईनाइड में बदल जाता है, जिससे सेवन करने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो सकती है ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
          3.  कुरकुरे का सेवन न करें क्योंकि इसमें प्लास्टिक की काफ़ी मात्रा होती है । इसकी पुष्टी के लिये कुरकुरे को जलायें तो देखेंगे कि प्लास्टिक पिघलने लगा है ।
 
टाइम्स आफ़ इण्डिया की रिपोर्ट
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
          4.  इन गोलियों का सेवन तुरन्त बन्द करें क्योंकि ये बहुत ख़तरनाक है:-
* डी-कोल्ड /D-cold
*   Vicks Action-500
* एक्टिफाइड/Actified
* कोल्डारिन/Coldarin
* कोसोम/Cosome
* नाईस/Nice
* निमुलिड़/Nimulid
* सैट्रीजैट-डी/Cetrizet-D
          इन गोलियों में फिनाईल प्रोपेनोल- एमाइड पीपीए होता है जिससे ह्रदयाघात् होता है । इसलिये यह दवा अमेरिका में प्रतिबन्धित है ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
          वाट्सएप/फेसबुक जैसे माध्यमों पर आप मुफ़्त में महत्वपूर्ण सूचनाओं से सभी को अवगत करा सकते हैं, अत: इसे पढ़ें और दूसरों को भी सूचित करें ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
          अमेरिका के डाक्टरों को व्यक्तियों में हो रहे नये क़िस्म के कैंसर का पता चला है जोकि "सिल्वर नाइट्रो आक्साइड"के कारण पनप रहा है ।
          मोबाइल चार्ज करने के लिये रीचार्ज कार्ड ख़रीदें तो कोड नम्बर के लिये कोड लाइन को नाख़ून से न खुर्चें, क्योंकि कोड को छुपाने में
"सिल्वर नाइट्रो आक्साइड" नाम के रसायन की परत होती है, जिससे त्वचा का कैंसर होता है ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
महत्वपूर्ण स्वास्थ्य बातें:-
           सेलफ़ोन पर बातें करते समय मोबाईल बायें कान की तरफ़ रखें ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
         
जब भी बैटरी अंतिम बार पर हो, सैलफ़ोन से बात न करें,क्योंकि तब ध्वनी तरेंगे एक हज़ार गुणा शक्तिशाली हो जाती है ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
          सांय पाँच बजे के बाद भारी भोजन का सेवन न करें ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
           हमेशा सुबह ज़्यादा पानी पिएं व रात के समय कम ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
         सोने का सबसे अच्छा समय रात दस बजे से सुबह चार बजे तक होता है ।
 

🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴           
          दवाईयां खाना खाने के बाद तुरन्त न लेवें।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
          
ठण्डे पानी के साथ गोलियां न लेवें ।
🔴🔴🔴🔴🔴🔴🔴
अमेरीकी रसायन अनुसंधान केन्द्र के जांच परिणाम के अनुसार-
           चाय को न तो प्लास्टिक के कपों में पिएं और न ही प्लास्टिक पेपर पर भोजन करें, क्योंकि प्लास्टिक गरम होने पर इसमें रासायनिक परिवर्तन होने लगते हैं जिनसे 52 प्रकार के कैंसर होने का ख़तरा है ।

          यह संदेश भारत में कार्यरत डाक्टरों के समूह से है, जिसको आम जनता के हित में भेजा जा रहा है ।
डा० हार्दिक शाह !
मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO)
सामान्य अस्पताल ( Civil Hospital ) मुम्बई


 

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमल्य प्रतिक्रियाओं के लिये धन्यवाद...

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...