रोग की जड : खांसी


        हम और हमारे परिजन खांसी की गिरफ्त में अक्सर आते रहते हैं ।  किसी को धूल के प्रदूषण या किसी एलर्जी के कारण खांसी हो जाती है तो कई बार ठण्डा खाने-पीने से या अधिक मात्रा में बच्चों के द्वारा टाफियां खाने व कोल्ड ड्रिंक पीने से भी खांसी होते देखी जा सकती है । लम्बे समय तक बनी रहने वाली खांसी शरीर के अन्दर उपज रहे किसी बडे रोग की संकेतक भी हो सकती है । किन्तु यहाँ हम सामान्य तौर पर किसी भी कारण से होने वाली खांसी के असरदार घरेलू उपचार के बारे में बात कर रहे हैं-

          10 ग्राम फिटकरी लें व गर्म तवे पर उसे रख दें । थोडी देर खदबदाने के बाद वह फिटकरी ठंडी होकर बैठ जावेगी । फिर उसी फिटकरी को चाकू जैसी किसी नोकदार वस्तु से उस गर्म तवे पर पलट दें । थोडी बहुत इस स्थिति में भी वह फिटकरी खदबदाते दिखेगी व बैठ जावेगी । यह शोधित फिटकरी कहलाती है । इस फिटकरी को बेलन की मदद से बिल्कुल बारीक पीसलें और इसमें 100 ग्राम शक्कर का बुरा मिलाकर इसे एकजान करके इसकी बराबर वजन की 15 पुडिया बना लें ।

     अब यदि खांसी कफ वाली महसूस हो रही हो तो एक गिलास कुनकुने पानी के साथ एक पुडिया सुबह और एक पुडिया शाम को ले लें, और यदि सूखी खांसी महसूस हो रही हो तो कुनकुने दूध के साथ ऐसे ही एक पुडिया सुबह और एक पुडिया शाम को ले लें ।

          सामान्य तौर पर कैसी भी खांसी हो इस उपचार से दो दिन में ठीक हो जावेगी ।

          इसके अलावा वो कारण जो आपको इस खांसी के लिये जिम्मेदार लगता हो जैसे धूल की एलर्जी, बहुत ठण्डा या मीठी टाफियां खाना अथवा धूम्रपान इनसे उपचार के दौरान पूरी तरह से बचने का प्रयास करें और यदि 5-6 दिन लगातार यह दवा लेने के बाद भी आपको सुधार होता न दिखे तो फिर किसी विशेषज्ञ डाक्टर को अवश्य दिखावें ।


SHARE

Milan Tomic

Hi. I’m Designer of Blog Magic. I’m CEO/Founder of ThemeXpose. I’m Creative Art Director, Web Designer, UI/UX Designer, Interaction Designer, Industrial Designer, Web Developer, Business Enthusiast, StartUp Enthusiast, Speaker, Writer and Photographer. Inspired to make things looks better.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

5 टिप्पणियाँ:

  1. khansi ka accha upchar bataya aapne mujko khansi bahut pareshan karti hai bachpan se 'is bar aisa hi karoongi

    जवाब देंहटाएं
  2. अच्छा है। कभी ज़रूर आजमाएंगे।

    जवाब देंहटाएं
  3. आज मेने आपके बहुत सारे ब्लोग्स पढ़े जिनसे बहुत जी ज्ञान की बाते सीखने को मिली मै तो ज्यादा ब्लोग्स लिख नहीं पता हु समय की कमी के कारण परन्तु आपे बहुत से ब्लोग्स देखे तो मुझे लगा की मुझे भी लिखना चाहिए एक बार फिर से आपको बहुत बहुत धन्यवाद और मै आपके ब्लोग्स पढ़ते रहूँगा और आपसे मुएे बहुत कुछ सीखने को मिला और मिलेगा

    जवाब देंहटाएं

आपकी अमल्य प्रतिक्रियाओं के लिये धन्यवाद...

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...